डेज़ी चक्र

डेज़ी चक्र

डेज़ी व्हील प्रिंटर का आविष्कार 1969 में हुआ था । इस प्रिंटर में डेज़ी के फूल के सामान एक गोल पहियानुमा संरचना होती है । यह प्रिंटर बॉल-हेड टाइपराइटर के सिद्धांत पर ही काम करता है । डेज़ी व्हील का चक्र प्लास्टिक अथवा मेटल का बना होता है जिसके बाहरी किनारे पर शब्द होते है । एक शब्द को प्रिंट करने के लिए, प्रिंटर चक्र को तब तक घुमाता है जब तक की वो अक्षर पेपर के सम्मुख न आ जाये । इसके पश्चात एक हथोड़े से चक्र पर प्रहार किया जता है, इस बलपूर्वक प्रहार से चक्र पर बना शब्द स्याही युक्त रिब्बन पर दबाव डालता है और अक्षर कागज़ पर मुद्रित हो जाता है । डेज़ी व्हील प्रिंटर से चित्रों को प्रिंट नहीं किया जा सकता है । डेज़ी व्हील प्रिंटर 10 से 75 अक्षर प्रति सेकंड प्रिंट कर सकता है

लाभ
डॉट मैट्रिक्स प्रिंटर की तुलना में अधिक विश्वसनीय
बेहतर गुणवत्ता
चरित्र का फोंट आसानी से बदला जा सकता है.

नुकसान
डॉट मैट्रिक्स प्रिंटर की तुलना में धीमी
उपयोग में लेते समय अधिक शोर होता है
डॉट मैट्रिक्स प्रिंटर की तुलना में महंगा