एम.एस. एक्सेल : Tools Menu (टूल्स मेनू)

एम.एस. एक्सेल : Insert Menu (इन्सर्ट मेनू)

एम.एस. एक्सेल : Tools Menu (टूल्स मेनू)


Share Workbook (शेयर वर्कबुक) :- इस ऑप्शन के द्वारा एक्सेल वर्कबुक तो इंटरनेट अथवा नेटवर्क के माध्यम से अनेक लोगो के साथ साँझा (शेयर) किया जा सकता है तथा सभी यूजर सूचना प्राप्त कर सकते है

Merge Workbook (मर्ज वर्कबुक) :- इस ऑप्शन के माध्यम से एक वर्कबुक में परिवर्तन करने पर दूसरी वर्कबुक में भी परिवर्तन हो जाते है, इस ऑप्शन को मर्ज वर्कबुक कहते है|

Goal Seek (गोल सीक) :- इस गोल सीक एक डेटा विश्लेषण करने का टूल है, जिसके माध्यम से गोल या लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए विभिन्न तकनीकों से विश्लेषण करके उपाय खोजा जाता है

गोल सीक करने का तरीका :-
1. माउस पॉइंटर को रिजल्ट सेल पर लाकर क्लिक करे
2. Tools-> Goal Seek पर क्लिक करे
3. रिजल्ट सेल की वैल्यू को आवश्यकतानुसार परिवर्तित करे
4. सम्बंधित इंडिपेंडेंट सेल का रेफरेंस दे

उदाहरण के रूप में:-



ऊपर दिखाई गई टेबल में इंटरेस्ट Rs. 400/- है । हम इसे बढ़ा पर Rs. 500 /- करना चाहते है । इस उदहारण में Rs. 500 /- हमारा लक्ष्य (गोल) है और इसे प्राप्त करने के लिए गणना करने के लिए हम माउस/सेल पॉइंटर को D2 पर रखेंगे और गोल सीक ऑप्शन पर क्लिक करेंगे तो एक डायलॉग बॉक्स खुलेगा । यह डायलॉग बॉक्स कुछ ऐसा दिखाई देगा :-



To Value 500 लिखेंगे तथा बाई रिफरेन्स कॉलम में $B$2 टाइप करने के बाद OK बटन पर क्लिक करेंगे तो रेट लक्ष्य के अनुसार कैलकुलेट होकर अपने आप बदल जायेगा ।
अन्य परिदृश्य:- यह एक विश्लेषण टूल है, जिसका प्रयोग वहां किया जाता है जहाँ पर यह देखना ही की इनपुट डेटा को बदलने पर आउटपुट पर क्या प्रभाव पड़ेगा । उदहारण के लिए नीचे दी हुई टेबल में रेट 8 से 9.5 करने से इंटरेस्ट (ब्याज) पर क्या प्रभाव पड़ेगा



इसके लिये Tools->Scenario Option पर क्लिक करेगे, तो इसका एक डायलॉग बॉक्स इस तरह खुलेगा



इसमे हम परिदृश्य (Scenario) नाम लिखेगे और Changing Cell में B2 लिख कर OK पर क्लिक करेगे



तो यह B2 की वैल्यू पूछेगा उसमें 9.5 टाइप करेगे और OK बटन पर क्लिक करेगे ।



इसके समरी (summary) बटन पर क्लिक करने से परिदृश्य (Scenario) रिर्पोट दिखेगी जिसमे इंटरेस्ट बदला हुआ दिखायी देगा।



Auditing (आडिटिंग):- इसके द्वारा सेल वैल्यू की निर्भरता तथा स्वतंत्रता मार्क की जाती है-




इन्सर्ट मेनू के अंदर ऑब्जेक्ट को पेज में इन्सर्ट करने से सम्बंधित अनेक ऑप्शन होते है, सेल पॉइंटर जहाँ पर होता है वहाँ पर नयी सेल, रॉ, कॉलम, टेबल इत्यादि इन्सर्ट कर सकते है।

Chart (चार्ट ):- किसी भी आंकिक (न्यूमेरिकल) डेटा का चित्रात्मक (ग्राफिकल) प्रदर्शन कर सकते है। जैसे की नम्बरों को स्तम्भ, बार, पाई या फिर लाइन चार्ट में प्रदर्शित करके दिखाना।

चार्ट बनाने की विधिः-

(1) डेटा को सेलेक्ट करना
(2) Insert Menu –> Chart पर क्लिक करे



(3) चार्ट विज़ार्ड डायलॉग बॉक्स में से चार्ट का सिलेक्शन करे
(4) Next बटन पर क्लिक करे



(5)चार्ट को एक उचित नाम देवे तथा X-Axis तथा Y-Axis की वैल्यूज सेलेक्ट करे और Next बटन पर क्लिक करे



(6)जहाँ पर भी चार्ट को प्रदर्शित करना है उस स्थान को सेलेक्ट करे
a. As New Sheet
b. As Object in